कोरोना संकट के चलते दो महीने में पहली बाद सऊदी अरब की 90,000 मस्जिदें फिर से खुल गई हैं। हालांकि नमाजियों को कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने के लिए सख्त दिशानिर्देशों का पालन करने का आदेश दिया गया है।

सरकार ने लोगों से कहा है कि वे सफ़ों के बीच दो मीटर की दूरी रखें, फेस मास्क पहनें और अपनी खुद की नमाज मैट लाएं। नमाज से पहले मस्जिदों को पूरी तरह से साफ़ किया गया। नमाज के समय दरवाजे और खिड़कियां खोलते समय  एहतियात बरता जाता है।

नमाज के लिए अजान से 15 मिनट पहले मस्जिदें खोली जाएंगी और नमाज के 10 मिनट बाद बंद हो जाएंगी। शुक्रवार को नमाज के लिए पहली अजान नमाज के समय से 20 मिनट पहले शुरू होगी, और मस्जिदों को 20 मिनट पहले खोला जाएगा और 20 मिनट बाद बंद हो जाएगा। शुक्रवार की खुतबा और नमाज 15 मिनट से अधिक नहीं होनी चाहिए, अधिकारियों ने चेतावनी दी।

सऊदी अरब और दुनिया भर के अन्य देशों ने कर्फ्यू और लॉकडाउन के हफ्तों के बाद प्रतिबंधों को ढीला करना शुरू कर दिया है। इसके अलावा रविवार, यरूशलेम में अल-अक्सा मस्जिद जो मार्च के मध्य से बंद हो गई थी, नमाज के लिए फिर से खोल दी गई। गेट के बाहर लोग इंतजार कर रहे थे, कई ने सर्जिकल मास्क पहने थे। उनके प्रवेश करते ही, उनका तापमान लिया गया।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन