पहले सऊदी अरब में जो दिन हराम था उसे आज बड़े ही धूमधाम से मनाने की तैयारी हो रही है। बीते तीन साल पहले यदि कोई वेलेंटाइन डे मनाते हुए देखा जाता तो उसे उठाकर जेल में डाल दिया जाता है।

दरअसल, सऊदी क्राउन प्रिंस मुहम्मद बिन सलमान के शासन की बागडौर हाथ में आते ही सऊदी में हलाल और हराम के मतलब अब बदलने लगे है। ऐसे में अब वेलेंटाइन डे मनाना कोई गुनाह नहीं, कोई अपराध नहीं है।

इससे पहले रेस्तरां मालिकों ने गिरफ्तारी या बंद होने के डर से 14 फरवरी को जन्मदिन या वर्षगांठ समारोह पर भी प्रतिबंध लगा दिया था। हालांकि मक्का के पूर्व सीपीवीपीवी अध्यक्ष शेख अहमद कासिम अल-गमडी ने घोषणा की कि वेलेंटाइन डे ने इस्लामी शिक्षण या सिद्धांत का विरोध नहीं किया। उन्होंने कहा कि प्यार का जश्न सार्वभौमिक था और गैर-मुस्लिमों तक सीमित नहीं था।

इस घोषणा के बाद से अब सउदी लोग वेलेंटाइन डे पर अपने खास चाहने वाले के लिए उपहार, फूल, लजीज गुब्बारे और यहां तक कि गुच्छेदार टेडी बियर खरीद रहे हैं। इतना ही नहीं अरब न्यूज़ ने वेलेंटाइन डे मनाने की गाइड जारी की है।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन