‘डील ऑफ सेंचुरी’ पर OIC की बैठक, सऊदी ने ईरान के शामिल होने पर लगाई रोक

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा इजरायल के अवैध शासन को मान्यता देने के लिए जारी की गई ‘डील ऑफ सेंचुरी’ योजना पर चुप्पी को लेकर सऊदी अरब सहित सभी अरब देशों की कड़ी आलोचना हो रही है। इसी बीच सऊदी अरब ने इस बाबत बुलाई गई OIC की बैठक में ईरान के शामिल होने पर रोक लगाकर नया विवाद पैदा कर दिया।

ईरानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता, अब्बास मौसवी ने आधिकारिक इस्लामिक रिपब्लिक न्यूज़ एजेंसी (IRNA) को बताया कि सऊदी अधिकारियों नेईरानी प्रतिभागियों के लिए वीजा जारी करने से इनकार कर दिया। बावजूद इसके कि प्रतिनिधिमंडल को OIC के महासचिव, यूसुफ अहमद अहमद अल उथैमीन द्वारा आमंत्रित किया गया था।

मौसवी ने कहा, “सऊदी अरब की सरकार ने ओआईसी के मुख्यालय में ‘डील ऑफ सेंचुरी’ से जुड़ी बैठक में ईरानी प्रतिनिधिमंडल की भागीदारी को रोक दिया है।”, तेहरान ने रियाद के खिलाफओआईसी मुख्यालय में मेजबान देश के रूप “दुरुपयोग” को लेकर शिकायत दर्ज कराई है।

ईरानी अधिकारी ने बताया कि कई देश सऊदी अरब पर “ओआईसी के लिए अपने स्वयं के राजनीतिक हितों की तलाश के लिए अपने मेजबान का शोषण करने” का आरोप लगा रहे। उन्होंने दोहराया कि रियाद “अपनी बड़ी गतिविधियों को करने से ओआईसी को रोक रहा है,”

उन्होने कहा कि यह तनावपूर्ण है कि सऊदी अरब के संगठन के आयोजन के लिए निरंतरता “संदिग्ध” हो गई। फिलहाल सऊदी अधिकारियों ने कोई तत्काल टिप्पणी नहीं की।

विज्ञापन