sadda

sadda

जॉर्डन ने इराक के पूर्व राष्ट्रपति की सद्दाम हुसैन की 28 अरब डॉलर उस धनराशि को इराक को लौटाने से इनकार कर दिया है. जिसे उन्होंने जोर्डन के बैंकों में रखा था.

जॉर्डन ने इस राशि को सद्दाम के बेटों की निजी संपत्ति बताया है. हालांकि इराक़ी सरकार का कहना है कि यह राष्ट्रीय धन है, जिसे पूर्व राष्ट्रपति के बेटों ने ग़ैर क़ानूनी रूप से विदेश स्थानांतरित किया था.

अम्मान का दावा है कि क़ुसय और उदय की मौत के बाद, इस्लामी क़ानून के अनुसार उनकी वारिस सद्दाम की बेटी रग़द सद्दाम है, इसलिए केवल वह इस धन की मालिक हैं.

ध्यान रहे सद्दाम के दोनों बेटे 22 जुलाई 2003 को मूसिल में अमरीकी सैनिकों के साथ तीन घंटे तक चली मुठभेड़ में मारे गए थे. हालांकि उनके परिवार में अभी उनकी तीन बेटी मौजूद है.

साथ ही सद्दाम हुसैन की बड़ी बेटी रगद हुसैन ने इराक लौटने का फैसला किया हैं. वे 2018 के चुनाव लड़ सकती हैं. रगद सद्दाम हुसैन अभी जॉर्डन में निर्वासित जीवन व्यतीत कर रही हैं.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?