कोरिया प्रायद्वीप के पास रूस का एक समुद्री जहाज़ मिला है। जो सोने इट्टों और सिक्को से भरा हुआ है। जिसकी कीमत एक लाख करोड़ से अधिक बताई जा रही है।

यह जहाज़ कोरिया प्रायद्वीप के पूरब में ओलियेंगदो द्वीप से डेढ़ किलो मीटर की दूरी पर समुद्र में लगभग 427 मीटर की गहराई में मिला है। दक्षिणी कोरिया, ब्रिटेन, चीन और कनाडा के विशेषज्ञों की एक संयुक्त टीम ने इस जहाज़ को खोज निकाला है।

जहाज़ का नाम दिमित्री दोन्सकी था और यह वर्ष 1904 या 1905 में जापान के साथ युद्ध में रूसी सैनिकों की मदद के लिए इस क्षेत्र में भेजा गया था। जहाज़ में रूसी नौसेना के सैनिकों व अधिकारियों के वेतन और बंदरगाह के ख़र्चों का पैसा था।

फिलहाल रूसी जहाज़ को समुद्र तल से बाहर नहीं निकाला गया है और दक्षिणी कोरिया की एक कंपनी “शिनियल ग्रुप” को उसे बाहर निकालने का काम सौंपा गया है। लेकिन कंपनी ने, जो कई बरस से इस जहाज़ में लदे सोने की खोज कर रही थी, मांग की है कि ख़ज़ाने का आधा भाग उसे दिया जाए।

हालांकि सहमति इस बात पर बनी है कि इस जहाज़ के सोने का दस प्रतिशत भाग इस कंपनी को दिया जाएगा जिससे वह एक पर्यटन परियोजना पूरी करेगी जबकि बाक़ी का सोना रूस को दे दिया जाएगा।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano