Thursday, August 5, 2021

 

 

 

बगदादी से जुड़े अमेरिकी ऑपरेशन को रूस ने बताया फर्जी, कहा – चुनाव जीतने के लिए ट्रंप का प्रचार

- Advertisement -
- Advertisement -

मास्को में रक्षा मंत्रालय ने रविवार को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प की घोषणा के बारे में संदेह व्यक्त किया है। इसमे उत्तर-पश्चिम सीरिया में एक रेड के दौरान दाएश नेता अबू बक्र अल-बगदादी मा’रा गया था। ट्रम्प ने इसके लिए रूस, तुर्की, सीरिया और इराक को समर्थन के लिए धन्यवाद भी दिया।

मेजर-जनरल इगोर कोनाशेनकोव ने राज्य-संचालित आरआईए समाचार एजेंसी को बताया, “हम इस ऑपरेशन के दौरान इदलिब डी-एस्केलेशन ज़ोन के हवाई क्षेत्र का उपयोग करके अमेरिकी विमानों को किसी भी कथित सहायता से अनजान हैं।”

कोनाशेनकोव ने पिछले दावों का हवाला दिया कि अल-बगदादी मा’रा गया था। ट्रम्प के इस दावे पर कि दाएश का सरगना अमेरिकी सैनिकों को “रोते और चीखते” मिला था, मास्को ने कहा कि यह साबित करने के लिए कोई विश्वसनीय सबूत नहीं है कि इस तरह की छापेमारी हुई, खासकर जब कोई अमेरिकी या अंतर्राष्ट्रीय गठबंधन के हवाई हमले नहीं हुए हाल ही में इदलिब प्रांत में, जहां छापे के लिए कहा गया है।

donald trump reuters 1

रूसी रक्षा मंत्रालय के बयान ने इस दावे पर भी संदेह जताया कि अल-बगदादी वास्तव में इदलिब में था। इस शहर पर हयात तहरीर अल-शाम का कब्जा है, जिसे पहले नुसरा फ्रंट के नाम से जाना जाता था, जो सीरिया में अल-कायदा की शाखा है जो अल-बगदादी के लिए उग्र प्रतिद्वंद्वी था।

रूस का मानना है कि ट्रम्प द्वारा की गई घोषणाएं केवल प्रचार हैं। “ट्रम्प के पास अगले साल होने वाले चुनाव हैं,” रूस के राज्य टीवी संवाददाता ने यूएस डेनिस डेविडोव से रोसिया -24 में बताया। “अल-बगदादी के परिसमापन के बारे में यह घोषणा [यूएस] कमांडर-इन-चीफ के लिए कुछ बिंदुओं को जोड़ेगी।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles