erd

तुर्की के राष्ट्रपति तैय्यब अर्दोगान ने तुर्की में नियुक्त रुसी राजदूत की हत्या को लेकर कहा कि कारा में रूसी राजदूत की हत्या का मक़सद दोनों देशों के सामान्य हो रहे रिश्तों को खराब करना था. अर्दोगान ने कहा कि उनके इस विचार से रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन भी सहमत हैं.

उन्होंने आगे कहा कि तुर्की और रूस के रिश्ते, इलाक़े के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं, जो लोग दोनों देशों के संबंध को ख़राब करना चाहते हैं, उनका मक़सद कभी पूरा नहीं होगा. वहीँ रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने भी कहा कि अंकारा में रूसी राजदूत की हत्या, तुर्की और रूस के बीच सामान्य हो रहे द्वीपक्षीय रिश्तों और सीरिया की शांति प्रक्रिया में रुकावट पैदा करने के लिए की गई है.

पुतिन ने आगे कहाकि इस प्रकार के कामों का केवल यही जवाब हो सकता है कि आतंकवाद के ख़िलाफ़ लड़ाई में और तेज़ी लाई लाकर इन आंतकियो के अन्दर पैदा किया जाए.

गौरतलब रहें कि सोमवार को एक फ़ोटो प्रदर्शनी के दौरान, तुर्की में रूस के राजदूत एंड्रे कार्लोफ़ की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. इस हमले की जिम्मेदारी आईएसआईएस ने ली हैं.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें