Friday, September 24, 2021

 

 

 

रोहिंग्या मुसलमानों के लिए संयुक्त राष्ट्र संघ प्रस्ताव पारित, अत्याचार करने वालों को सज़ा देने की उठी मांग

- Advertisement -
- Advertisement -

संयुक्त राष्ट्र संघ में दुनिया के सबसे ज्यादा पीड़ित अल्पसंख्यक रोहिंग्या मुस्लिम समुदाय के लिए संयुक्त राष्ट्र संघ में प्रस्ताव पारित किया गया. ये प्रस्ताव संयुक्त राष्ट्र संघ की मानवाधिकार परिषद के सदस्यों की और से पारित किया गया.

संयुक्त राष्ट्र संघ की मानवाधिकार परिषद के 47 सदस्य देशों ने शुक्रवार को अपनी बैठक में प्रस्ताव पारित कर म्यांमार में रोहिंग्या मुसलमानों का जनसंहार करने वालों और यातनाएं देने वालों को गिरफ़्तार करके मुक़द्दमा चलाने और दंडित किए जाने की मांग की है.

इस बैठक के दौरान सभी ने यूरोपीय संघ की ओर से पेश किए गये प्रस्ताव के मसौदे के पक्ष में मतदान किया. इसके साथ ही इस जनसंहार की जांच के लिए म्यांमार में एक तथ्यपरक समिति  को भेजने की मांग की.

गौरतलब रहें कि संयुक्त राष्ट्र के मानवाधिकार कार्यालय की और से जारी रिपोर्ट में  कहा गया कि Area clearance operations’ के नाम पर म्यांमार में सैकड़ों की संख्या में अल्पसंख्यकों की हत्याएं हुई हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles