1483410393 1 org

1483410393 1 org

म्यांमार में रोहिंग्या मुसलमानों के कत्लेआम को लेकर रायटर की जांच रिपोर्ट को संयुक्त राष्ट्र ने ‘भयावह’ करार दिया. साथ ही रोहिंग्याओं के खिलाफ अपराधों की जांच पर जोर दिया.

संयुक्त राष्ट्र के प्रवक्ता फरहान हक ने कहा है कि हम ताजी खबरों से अवगत हैं. इनके विवरण बहुत खतरनाक हैं. यह अधिकारियों द्वारा एक बार फिर राखीन प्रांत में सभी प्रकार की हिंसा और विभिन्न समुदायों पर हमलों की पूर्ण और गहन जांच की आवश्यकता जताती है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

हक ने कहा है कि संयुक्त राष्ट्र के महासचिव एंटोनियों गुटेरस ने गिरफ्तार किये गये दो पत्रकारों की रिहाई की अपील की है और इसके लिए दबाव जारी रखने के संकेत दिए हैं.

ध्यान रहे अब तक रोहिंग्या मुसलमानों को लेकर जितनी भी खबरें सामने आई है, वे सिर्फ पीड़ितों की बातचीत के आधार पर बनी थीं. लेकिन पहली बाहर इस खबरों में हत्या में शामिल बौद्धों और फौज के जवानों से बातचीत की गई है. रिपोर्ट में बताया गया कि सभी ने रोहिंग्या मुसलमानों की हत्या कर उन्हें गड्ढे खोदकर दफनाने की बात स्वीकार की है.

रिपोर्ट में बताया गया कि रखाइन प्रांत के गांव में जिन 10 रोहिंग्या मुसलमानों को म्यांमार फौज ने पकड़ा था. उनमें से कम से कम दो को काट दिया गया. साथ ही एक कब्र में 10 रोहिंग्या मुसलमानों को दफनाया गया. सैनिकों ने प्रत्येक व्यक्ति को दो से तीन बार गोली मारी.