अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कई मुस्लिम देशों से लोगों के प्रवेश को सीमित करने की अपनी योजना पर कार्य करना शुरू कर दिया हैं. अमेरिका की मीडिया में छपे एक ड्राफ्ट ऑर्डर के मुताबिक युद्ध झेल रहे सीरिया के शरणार्थियों को अनश्चितकाल के लिए बैन किया गया है.

अमेरिकी अखबार की रिपोर्ट के अनुसार, यूएस के रिफ्यूजी एडमिशन प्रोग्राम को अगले 120 दिन के लिए निलंबित किया गया है. और ऐसे सभी देश जो युद्ध से घिरे हैं, जैसे इराक, सीरिया इरान ,सूडान, लीबिया सोमालिया और यमन से वीजा एप्लीकेशन अगले 30 दिन के लिए रद्द कर दिए गए हैं. हालांकि अभी इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई हैं.

अपनी योजना का बचाव करते हुए ट्रम्प ने कहा कि यह आवश्यक है क्योंकि दुनिया में ‘सब गड़बड़’ हो रहा है. एबीसी न्यूज’ को दिए साक्षात्कार में यह बताने से इनकार कर दिया कि वह किन देशों की बात कर रहे हैं. उन्होंने कहा, ‘हम कुछ देशों को बाहर रख रहे हैं लेकिन अन्य देशों के लिए अत्यंत कड़ी जांच होगी. उनके लिए भीतर आना बहुत कठिन होने वाला है.’ उन्होंने इस बात से इनकार किया कि यह मुसलमानों पर प्रतिबंध है. उन्होंने कहा, ‘नहीं, यह मुसलमानों पर प्रतिबंध नहीं है बल्कि उन देशों पर प्रतिबंध है जिनसे बहुत खतरा है.’

ट्रंप से जब पूछा गया कि उनकी इस कार्रवाई से मुस्लिम नाराज हो गए तो? उन्होंने जवाब दिया, ‘नाराज ? अभी ही भारी नाराजगी है. अब इससे ज्यादा और क्या होगा? दुनिया गुस्से से भरी है. हम इराक गए. हमें नहीं जाना चाहिए था. हमने जैसा रास्ता अख्तियार किया वो नहीं करना चाहिए था. अब तो दुनियाभर में दिक्कतें पैदा हो गई हैं.’


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें