यमन में सऊदी अरब की बोम्ब्बरी को लेकर संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयोग ने कहा है कि सऊदी सैनिक यमन में अंतर्राष्ट्रीय क़ानून का उल्लंघन करते हुए रिहाइशी घरों पर क्लस्टर बम मार रहे हैं।

गुरुवार को संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार आयुक्त ज़ैद रअद ज़ैद अलहुसैन ने संकट ग्रस्त यमन में मानवाधिकार के हनन के मामलों की एक आज़ाद अंतर्राष्ट्रीय संगठन से जांच कराने की मांग करते हुए कहा कि इस तरह की स्पष्ट अन्यायपूर्ण स्थिति को अंतर्राष्ट्रीय समुदाय लंबे समय तक बर्दाश्त नहीं कर सकता.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इसके अलावा मानवाधिकार परिषद ने यमन में ज़्यादातर नागरिकों के मारे जाने के लिए सऊदी अरब को ज़िम्मेदार बताया है.  गौरतलब रहें कि 26 मार्च 2015 से यमन और सऊदी अरब के बीच युद्ध जारी हैं.