स्वीडन के बाद अब नार्वे की राजधानी ओस्‍लो में कुरान फाड़ी, मुस्लिमों में भारी गुस्सा

यूरोप में एक के बाद एक इस्लाम विरोधी कार्यों के जरिये मुस्लिमों की धार्मिक भावनाओं को भड़काया जा रहा है। दक्षिन्पंथियों के द्वारा स्वीडन में कुरान जलाए जाने के बाद अब नार्वे की राजधानी ओस्‍लो में कुरान फाड़ी गई है। जिसको लेकर दुनिया भर के मुस्लिमों में भारी गुस्सा है।

नॉर्वे में एक ‘एंटी इस्लामिक’ रैली (anti-Islam rally) के दौरान स्‍टॉप इस्‍लामाइजेशन ऑफ नार्वे (Stop Islamization of Norway) नामक संगठन के एक कार्यकर्ता ने बैग से मुस्लिमों की पवित्र किताब कुरान (Quran) निकालकर उसे फाड़ दिया। इस दौरान रैली के विरोध में उपस्थित मुस्लिम युवक भड़क गए और हिंसा शुरू हो गयी।

डोयेचे वेले की एक रिपोर्ट के मुताबिक शनिवार को SIAN से जुड़े प्रदर्शनकारी राजधानी ओस्‍लो में संसद की बिल्डिंग के बाहर इकट्ठा हुए और इस्‍लामी विचारधारा के ख‍िलाफ अपना विरोध जताया। आरोप है कि संगठन से जुड़े लोगों ने इस प्रदर्शन के दौरान इस्लाम, कुरान और पैगंबर को लेकर कई आपत्तिजनक टिप्पणियां भी की।

इससे पहले स्वीडन में इस्लामिक विरोधी समूह टाइट डायरेक्शन (स्ट्राम कुर्स) के नेता रासमस पलुदन ने अपने समर्थकों के साथ शुक्रवार की शाम को कुरान जला दिया। इंटरनेट पर फुटेज सामने आने के बाद, माल्मो में विरोधी नस्लवादी समूहों ने इस घटना पर प्रतिक्रिया दी और सड़क पर टायर जलाकर यातायात बाधित करने वाले कार्यकर्ताओं को रोका।

Daily Aftonbladet की रिपोर्ट्स के मुताबिक शुक्रवार को एक पब्लिक स्क्वेयर पर इस्लाम-विरोधी प्रदर्शनों के दौरान तीन लोगों को पहले कुरान की एक प्रति को पैर मारते देखा गया था।

विज्ञापन