क़तर में तेल उत्पादक देशों का एक समूह कच्चे तेल के उत्पादन मूल्य को बढ़ाने के लिए एक बैठक कर रहा है.

इस बैठक का मक़सद तेल उत्पादन को रोक कर इसके उत्पादन मूल्यों को बढ़ावा देना है. अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में कच्चे तेल की क़ीमत दो साल पहले की क़ीमत से गिरकर लगभग आधी हो गई है. इससे तेल उत्पादक देशों की अर्थव्यवस्था बुरी तरह प्रभावित हो रही है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

लेकिन सबसे बड़ा तेल उत्पादक देश ईरान ने बैठक का हिस्सा बनने से इनकार कर दिया है.

ईरान के विदेशमंत्री का कहना है, “तेल के उत्पादन पर किसी भी तरह के रोक का मतलब है कि प्रतिबंध हटाए जाने के बाद उनके देश की बाज़ार में वापसी को कोई फ़ायदा नहीं हो सकेगा.” (BBC)

Loading...