क़तर ने सऊदी अरब के सामने झुकने से इंकार करते हुए कहा कि सऊदी अरब क़तर को अपने प्रभाव में लेना चाहता है परंतु कभी भी एसा नहीं होगा.

क़तर के विदेशमंत्री मोहम्मद बिन अब्दुर्रहमान आले सानी ने कहा कि उनका देश किसी भी स्थिति में सऊदी अरब के प्रभाव व वर्चस्व में नहीं आयेगा. उन्होंने कहा कि क़तर की एक स्वतंत्र पहचान और इतिहास है.

आले सानी ने कहा कि जो लोग क़तर को घुटने टेक देने की शैली अपनाये हुए हैं उसका कोई परिणाम नहीं होगा और क़तरी राष्ट्र अपनी संप्रभुता की रक्षा के लिए तैयार है.

कतर के विदेशमंत्री ने कहा कि देश की नाकेबंदी शुरू होने के साथ ही जो संकट उत्पन्न हुआ है. उसका दोहा संप्रभुता और अंतरराष्ट्रीय कानूनों के सम्मान की शर्त के साथ कूटनियक ढंग से उसका समाधान करने के लिए तैयार है.

उन्होंने कहा कि जब यमन और लेबनान सहित क्षेत्रीय परिवर्तनों व परिस्थितियों को देखा जाता है तो यह चीज़ समझ में आती है कि सऊदी अरब की नीतियां न केवल कतर बल्क क्षेत्र में अस्थिरता उत्पन्न होने का कारण बनी हैं.

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें