सऊदी अरब और उसके सहयोगी देशों द्वारा कुवैत के जरिए सौंपी गई अपनी मांगो की सूची को क़तर ने पहले ही खारिज कर दिया है. इसी के साथ क़तर के लोगों ने भी अपनी मांगो की सूची जारी की है.

क़तरी लोगों ने संयुक्त अरब इमारात से मांग की है कि वह पहले 8 लाख ईरानियों को देश से बाहर निकाले और ईरान के व्यावसायिक कार्यालयों को बंद करे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इसी प्रकार, क़तरी लोगों ने संयुक्त अरब इमारात और सऊदी अरब से कहा है कि यमन के ख़िलाफ़ युद्ध समाप्त करें और लीबिया में ख़लीफ़ा हफ़्तर का समर्थन बंद करें.

इन मांगों में कहा गया है कि सऊदी अरब और इमारात अपने उन हज़ारों नागरिकों के नामों की सूची जारी करें, जो सीरिया और इराक़ में तकफ़ीरी आतंकवादों गुटों में शामिल होकर हिंसा फैला रहे हैं.

Loading...