ahsna

ahsna

ख़त्म-ए-नबुवत कानून में बदलाव को लेकर राजधानी इस्लामबाद में हो रहे प्रदर्शन को लेकर पाकिस्तान ने भारत को बताया ज़िम्मेदार ठहराया है.

पाकिस्तान के गृह मंत्री अहसान इकबाल ने कहा कि प्रदर्शन कर रहे धार्मिक पार्टिया बीते कई दिनों से भारत के सम्पर्क में थी. हालांकि इस सबंध में वे कोई सबूत पेश नहीं कर पाए. लेकिन इस उन्होंने जांच का दावा किया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

डॉन न्यूज को दिए गए साक्षात्कार में उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय राजधानी में एकत्र हुए सैकड़ों प्रदर्शनकारी साधारण लोग नहीं थे. उन्होंने कहा, ‘‘हम देख सकते हैं कि उनके पास विभिन्न संसाधन हैं. उन्होंने आंसू गैस के गोले (सुरक्षा बलों पर) दागे हैं. उन्होंने अपने प्रदर्शन की निगरानी कर रहे कैमरों के फाइबर आॅप्टिक केबल भी काट दिए.’’

इकबाल ने दावा किया कि प्रदर्शनकारियों ने भारत से भी संपर्क किया था. इकबाल ने कहा, ‘‘उन्होंने ऐसा क्यों किया, हम इसकी जांच कर रहे हैं. उनके पास अंदरूनी सूचना और संसाधन हैं, जिसका राज्य के खिलाफ इस्तेमाल किया जा रहा है.

ध्यान रहे प्रदर्शनकारियों पर कार्रवाई के बाद भडकी हिंसा में 6 लोगों की मौत हो गई और 200 से अधिक लोग घायल हो गए.  घायलों में  95 सुरक्षाकर्मी भी शामिल है. पुलिस ने कम से कम 150 प्रदर्शनकारियों को गिरफ्तार किया है.

Loading...