erdd

अमेरिकी पादरी की गिरफ़्तारी से बिगड़े तुर्की और अमेरिका के रिश्तों में तनाव बढ़ता ही जा रहा है। अमेरिका के प्रतिबंधो और धमकियों के जवाब में अब तुर्की ने अमेरिका के क़ानून और गृहमंत्री की संपत्ति सील करने की घोषणा कर दी है।

तुर्की राष्ट्रपति रजब तैयब एर्दोआन ने टीवी पर प्रसारित किए एक भाषण में कहा, ‘‘अगर अमेरिका के न्याय और आंतरिक मामलों के मंत्रियों की तुर्की में कोई संपत्ति है तो आज मैं अपने दोस्तों उन्हें जब्त करने के निर्देश दूंगा।’’ उन्होंने कहा कि अमरीका में तुर्की के क़ानून और गृहमंत्री की संपत्तियां सील करने की अमरीकी सरकार की कार्यवाही, तुर्की का अपमान है।

बता दें कि वाइट हाऊस की प्रवक्ता सारा सेन्डर्ज़ ने घोषणा की है कि तुर्की के गृहमंत्री सुलैमान सुवैलू और क़ानून मंत्री अब्दुल हमीद गुल चूंकि अमरीकी पादरी की गिरफ़्तारी में लिप्त रहे हैं इसीलिए अमेरिकी वित्तमंत्रालय ने उन पर प्रतिबंध लगा दिया।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

trump congress

इस मामले में तुर्की के विदेशमंत्री मौलूद चावूश ओग़लूने शनिवार को कहा कि अंकारा तथा वाशिग्टन के बीच जो मतभेद हैं उनका समाधान कूटनीतिक के अतिरिक्त किसी अन्य मार्ग से नहीं किया जा सकता। तुर्की के विदेशमंत्री ने कहा कि इनका समाधान सदभावना और वार्ता से ही संभव है किंतु धमकी और प्रतिबंधों से संभव नहीं है।

उन्होंने पत्रकारों से बात करते हुए कहा कि कोई भी तुर्की से धमकी के माध्यम से अपनी बात मनवा नहीं सकता।  तुर्की के विदेशमंत्री ने कहा  कि देश की जनता धमकियों के सामने झुकने वाली नहीं है और इसके परिणाम उल्टे ही निकलेंगे।ओग़लू ने अमरीका को संबोधित करते हुए कहा कि अगर प्रतिबंध लगाओगे तो फिर प्रतिबंध सहन करने पड़ेंगे।

Loading...