तुर्की राष्ट्रपति रेसेप तईप एर्दोआन ने बुधवार को टेलीग्राम मैसेजिंग ऐप पर अपने पहले संदेश को साझाकिया। उनका ये संदेश WhatsApp द्वारा प्राइवेसी को लेकर छिड़ी बहस के बीच सामने आया है।

उन्होने अपने पहले संदेश में तुर्की में वर्षा की कमी की ओर ध्यान आकर्षित किया। उन्होने कहा, “हर 100 साल में एक बार आने वाले सूखे के खतरे के सामने, हम सभी को सावधानी बरतनी होगी। राष्ट्रपति ने लिखा, 600 बांधों, 590 पनबिजली संयंत्रों, 262 पीने योग्य पानी के प्रतिष्ठानों और बहुत कुछ का निर्माण करके हमने अपनी जल क्षमता को अपने सभी क्षेत्रों में उच्चतम स्तर तक बढ़ा दिया।

उन्होंने कहा, “हालांकि, मौजूदा संसाधनों का सबसे अच्छे तरीके से उपयोग करने का मुख्य तरीका बचत और जागरूक खपत है।”

इससे पहले तुर्की प्रेसिडेंसी ने अपने व्हाट्सएप समूहों को एन्क्रिप्टेड मैसेजिंग ऐप बीईपी को स्थानांतरित कर दिया, जो कि तुर्कसेल आइलेटिसिम हिज़मेटलर एएस की एक इकाई है। 

बता दें कि व्हाट्सएप की शर्तों और सेवाओं को प्रभावी फरवरी 8 में परिवर्तन करने से यह मूल कंपनी फेसबुक के साथ डेटा साझा करने की अनुमति देगा। ऐसे में यूजर को व्हाट्सएप पर नए नियमों से सहमत होना होगा या अपने खातों को बंद करना होगा।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano