Pope Invited To Visit Romes Mosque

अमेरिका और उत्तरी कोरिया के बीच बड़ते तनाव के चलते दोनों देशों के बीच युद्ध की सम्भावना बढ़ती जा रही हैं. ऐसे में ईसाई धर्म के वरिष्ट धर्मगुरु पोप फ़्रांसिस दोनों देशों के बीच मध्यस्त बनने की पेशकश की हैं.

पोप फ्रांसिस ने कहा कि यदि कोरिया प्रायःद्वीप में कोई युद्ध छिड़ता है तो इसमें बहुत बड़ी संख्या में निर्दोष लोग मारे जाएंगे. उन्होंने सभी धर्मों के धर्मगुरुओं से इस युद्ध को रोकने के लिए आगे आने की अपील की हैं.

उन्होंने कहा कि इसी बात के दृष्टिगत विश्व के सभी धर्मगुरूओं से मेरा अनुरोध है कि कोरिया संकट के समाधान के लिए वे आगे आएं.

उन्होंने कहा कि मानवता की सुरक्षा के लिए हमें आगे आना चाहिए क्योंकि यदि किसी भी प्रकार का युद्ध छिड़ता है तो फिर उससे व्यापक स्तर पर विनाश होगा.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?