Monday, October 25, 2021

 

 

 

आखिर में पोप ने भी स्वीकारा – रोहिंग्या मुसलमान हैं, सिर्फ़ पलायनकर्ता नहीं

- Advertisement -
- Advertisement -

Pope Francis meets with a Rohingya refugee in Dhaka, Bangladesh, on Friday. Vincenzo Pinto / AFP – Getty Images

रोहिंग्या संकट के बीच म्यांमार और बांग्लादेश की यात्रा पर पहुंचे ईसाइयों के सबसे बड़े धर्मगुरू पोप फ्रांसिस ने आखिर में रोहिंग्या मुसलमान शब्द का प्रयोग कर ही लिया।

विश्व के कैथोलिक इसाइयों के धर्मगुरू पोप फ़्रांसिस ने रोहिंग्या मुसलमान, के शब्द का प्रयोग करना आरंभ कर दिया।  अब तक वे रोहिंग्या मुसलमानों को, शरणार्थी या पलायनकर्ता या राख़ीन के पलायनकर्ता के नाम से संबोधित कर रहे थे।

Pope Francis shakes hands with Rohingya refugees in Dhaka, Bangladesh, on Friday. Ettore Ferrari / EPA

पोप फ़्रांसिस ने शुक्रवार को बांग्लादेश की राजधानी ढाका के निकट स्थित काॅक्स बाज़ार में रोहिंग्या मुसलमानों के बनाए गए अस्थाई शरणस्थल में जाकर उनकी आपबीती सुनी।  पोप ने इस पर दुख व्यक्त किया।  उन्होंने रोहिंग्या मुसलमानों की दुर्दशा को देखकर अफसोस जताया।

इससे पहले बहुत से मानवाधिकार संगठन इस बात की आलोचना कर चुके हैं कि, म्यांमार के राख़ीन प्रांत से अपनी जान बचाकर पलायन करने वाले रोहिंग्या मुसलमानों के लिए पोप, केवल शरणार्थी या पलायनकर्ता शब्द का ही प्रयोग कर रहे थे।

म्यांमार की सेना और वहां के बौद्ध अतिवादियों की हिंसक कार्यवाही के बचने के उद्देश्य से लगभग 6 लाख 20 हज़ार रोहिंग्या मुसलमान इस समय बांग्लादेश में शरण लिए हुुए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles