ईरान को बड़ा झटका – जब्तटैंकर से हटाया गया ईरानी झंडा, बदला गया…..

7:00 pm Published by:-Hindi News

तेहरान और पश्चिम के बीच गतिरोध में पकड़े गए एक ईरानी टैंकर से ईरानी झंडे को हटा दिया गया है। साथ ही जहाज को एक नया नाम दिया गया है। रायटर ने अपनी रिपोर्ट में इस बात की जानकारी दी।

बता दें कि ब्रिटिश रॉयल मरीन ने जुलाई में जिब्राल्टर में इस पोत को जब्त किया था। इस आरोप था कि यह यूरोपीय संघ के प्रतिबंधों का उल्लंघन करते हुए ईरान के करीबी सहयोगी सीरिया में तेल ले जा रहा था।

वीडियो फुटेज और तस्वीरों से पता चला है कि टैंकर से ईरान के लाल, हरे और सफेद झंडे को उतारा दिया गया और उसके पतवार पर सफेद रंग में चित्रित rian एड्रियन दरिया -1 ’का नया नाम लिखा। इसका पिछला नाम, ‘ग्रेस 1’, था। पोत का लंगर अभी भी नीचे ही था।

irann

ग्रेस 1 ने मूल रूप से पनामियन ध्वज को फहराया हुआ था, लेकिन पनामा के समुद्री प्राधिकरण ने जुलाई में कहा था कि पोत को चेतावनी के बाद डी-लिस्ट किया गया था। हालांकि जिब्राल्टर ने गुरुवार को पोत पर से जब्ती के आदेश को हटा दिया।

लेकिन अब अमेरिका ने ग्रेस 1 की जब्ती के लिए एक वारंट जारी किया है। अमेरिका की और से जारी वारंट में कहा गया है कि पोत, सारा तेल, अंतर्राष्ट्रीय आपातकालीन आर्थिक शक्तियां अधिनियम (IEEPA), और बैंक धोखाधड़ी, मनी लॉन्ड्रिंग और आतंकवाद निरोधात्मक क़ानूनों के उल्लंघन के आधार पर ज़ब्त किया जाएगा।

इस आदेश में कहा गया कि टैंकर और उसमें मौजूद तेल टैंकर को ज़ब्त किया जाए। साथ ही ईरानी कंपनी पैराडाइज़ ग्लोबल ट्रेडिंग कंपनी एलएलसी से जुड़े अमरीकी बैंक के एक अज्ञात अकाउंट से 9.95 लाख डॉलर भी ज़ब्त किए जाएं।

Loading...