पनामा पेपर्स मामले में नवाज शरीफ की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रही है. इस चक्कर में पहले उनकी प्रधानमंत्री पद की कुर्सी छीन गई, अब उनकी सारी संपति जब्त कर ली गई.

शुक्रवार को पाकिस्तान के शीर्ष भ्रष्टाचार संगठन ने उनके बैंक खातों को फ्रीज कर दिया. साथ ही उनकी और उनके परिवार के सदस्यों की संपत्तियों को भी जब्त कर लिया. नवाज शरीफ भ्रष्टाचार और मनी लॉन्ड्रिंग के आरोपों का सामना कर रहे हैं.

67 साल के शरीफ को पिछले 28 जुलाई को सुप्रीम कोर्ट ने पनामा पेपर केस में दोषी ठहराया है. साथ ही उन पर और उनके परिवार पर भ्रष्टाचार का केस चलाने का भी आदेश दिया है. इस मामले में अब अदालत ने सुनवाई करते हुए शरीफ, उनकी बेटी मरियम और दामाद कप्तान (सेवानिवृत्त) सफदर को 26 सितंबर को तलब किया है.

नेशनल अकाउंटबिलिटी ब्यूरो के अधिकारियों ने शरीफ के रायविन्ड स्थित घर पर पहुंचकर कोर्ट का समन और अटैचमेंट ऑर्डर दिखाया और शरीफ परिवार की संपत्ति सीज कर ली.

बता दें कि नवाज शरीफ अपने बच्चों के साथ इन दिनों लंदन में हैं, जहां उनकी पत्नी कुलसुम का इलाज चल रहा है. ऐसे में शंका जताई जा रही है कि कारवाई से बचने के लिए नवाक पाकिस्तान वापस न आए.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?