इस्राईल की और से फ़िलिस्तीनियों को अपनी जमीन से बेदखल करने की एक नई साजिश शुरू की गई हैं, जिसके तहत अफवाह फैलाई गई हैं कि मिस्र की और से सीना प्रायद्वीप को फ़िलिस्तीनियों को दिया जा रहा हैं ताकि वे इस पर बस सके. हालाँकि मिस्र की और से इसे सिरे से ख़ारिज कर दिया गया.

मिस्री राष्ट्रपति के प्रवक्ता अला यूसुफ़ ने इस बारें में कहा कि गुरुवार को क़ाहेरा में मिस्री राष्ट्रपति अब्दुल फ़त्ताह सीसी की पुलिस और सेना के कमान्डरों की मुलाक़ात के बाद बयान में कहा कि सीना प्रायद्वीप के एक भाग को फ़िलिस्तीनियों को देने के बारे में कोई बात नहीं हुई है और इस तरह का विचार अवास्तविक व अस्वीकार्य है.

सीना प्रायद्वीप का उत्तरी भाग फ़िलिस्तीनियों को देने से संबंधित ये अफ़वाह इस्राईल के एक अधिकारी ‘अय्यूब कारा’ की और से फैलाई गई हैं ताकि फ़िलिस्तीनियों के लिए ‘वैकल्पिक वतन योजना’ पेश किया जा सके. क्यांकि इस्राईल फ़िलिस्तीन में दो सरकार के गठन पर भी सहमत नहीं हैं. और फ़िलिस्तीन को अपने में कब्जे में ही रखना चाहता हैं.

इससे पहले भी इस्राईल के अधिकारी किसी दूसरे देश में फ़िलिस्तीनियों के लिए वतन क़ायम करने की बात कह चुके हैं. जैसा कि इस संदर्भ में इससे पहले जॉर्डन का नाम सुनने में आ चुका है जिसका जॉर्डन सरकार ने कड़ाई से विरोध किया था.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें