Tuesday, June 22, 2021

 

 

 

इजरायल का फिलिस्तीनी बच्चे पर जुल्म, हिरासत में पिटाई से टूटा जबड़ा

- Advertisement -
- Advertisement -

फिलिस्तीनी कैदियों की सोसायटी (पीपीएस) ने इजरायल के सैनिकों द्वारा फिलिस्तीनी बच्चे पर किए जा रहे जुल्म का खुलासा किया है। पीपीएस ने कहा कि हिरासत में बेरहमी से पीटे जाने के बाद कल एक फिलिस्तीनी बच्चे की सर्जरी हुई।

दो दिन पहले हिरासत में लिए हेब्रोन के उत्तर में अल-अरोएब शरणार्थी शिविर से 16 वर्षीय बच्चे को इजरायल के कब्जे वाले बलों के हाथों दुर्व्यवहार के बाद यरूशलेम में हाडासा अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

पिटाई से मोहम्मद मुक़बेल को निचले जबड़े और फ्रैक्चर का सामना करना पड़ा। उनके पिता, मुनीर मुक़बेल ने पुष्टि की कि मोहम्मद के निचले बाएं जबड़े को इलाज के दौरान प्रत्यारोपित करना पड़ा।

उन्हे पिछले सप्ताह इजरायल की सेना द्वारा हिरासत में लिया था, जब वह स्कूल जा रहे थे, यह स्पष्ट नहीं है कि उन्हे क्यों हिरासत में लिया गया।

मोहम्मद वर्तमान में हैडासाह अस्पताल में है। जिसे इज़राइली सैन्य अदालत द्वारा रविवार तक हिरासत में रखने के आदेश देने के बाद गंभीर दर्द होने पर अस्पताल में भर्ती कराया गया। उन्हें अपने परिवार से संपर्क करने से मना किया गया है।

इजरायल की सेना ने “वांछित” फिलिस्तीनियों की तलाश के बहाने पूर्वी यरुशलम सहित कब्जे वाले वेस्ट बैंक पर लगातार गिरफ्तारी अभियान चलाया।

पीपीएस ने कहा कि पूर्वी यरुशलम में रहने वाले बच्चे सबसे ज्यादा निशाने पर है। स्पष्ट रूप से महीने में कम से कम एक बार ये गिरफ्तारी का सामना करते हैं।

इजरायल दुनिया का एकमात्र ऐसा देश है जहां बच्चों पर सैन्य अदालतों में नियमित मुकदमा चलाया जाता है जिसमें निष्पक्ष सुनवाई के लिए बुनियादी सुरक्षा उपायों का अभाव होता है।

इसके अलावा, इजरायल द्वारा हिरासत में लिए गए फिलिस्तीनी बच्चों को दुर्व्यवहार और व्यवस्थित यातना का सामना करना पड़ता है, जिसे न्यायपालिका और सरकार द्वारा वैध ठहराया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles