1948 के एक पुराने राॅकेट के फटने से दो फ़िलिस्तीनी बच्चे शहीद हो गए. ये राॅकेट मंगलवार की रात को अचानक फटा जिससे दोनों बच्चों की मौत हो गई.

इस्राईल ने 1948 में फ़िलिस्तीन के एक बड़े भाग पर क़ब्ज़ा करने के दौरान फिलिस्तीनियों पर राॅकेट से हमला किया था. उन्ही में से ये राॅकेट निष्क्रिय नहीं हुआ था. नक़्ब क्षेत्र के ज़रनूक़ गांव में बच्चों के खेलते समय फट गया. जिससे दस और सात साल के दो फ़िलिस्तीनी बच्चे शहीद हो गए.

याद रहे इस्राईल ने 1948 में फ़िलिस्तीन के एक बड़े भाग पर क़ब्ज़ा करने के दौरान अनेक जघन्य अपराध किए थे और 15 हज़ार से अधिक फ़िलिस्तीनियों को शहीद करने के अलावा 41 लाख से अधिक फ़िलिस्तीनियों को बेघर भी कर दिया था.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इसके बावजूद पिछले साठ साल से फ़िलिस्तीनियों का संघर्ष समाप्त नहीं हुआ है और वे निरंतर इस्राईल के ख़िलाफ़ लड़ रहे हैं. अक्तूबर 2015 से शुरू होने वाले अलक़ुद्स इंतेफ़ाज़ा आंदोलन में अब तक लगभग 300 फ़िलिस्तीनी शहीद हो चुके हैं.

Loading...