इस्राईल फ़िलिस्तीन विवाद के संबंध में संयुक्त राष्ट्र के प्रस्ताव को लेकर अमेरिका ने विरोध करने का फैसला किया हैं. अमरीका की डेमोक्रेट राष्ट्रपति उम्मीदवार हिलैरी क्लिंटन ने इस्राईली प्रधानमंत्री बिनयामिन नेतनयाहू से मुलाकात में इस बात का खुलासा किया हैं.

रविवार को न्यूयार्क में नेतनयाहू से अपनी मुलाक़ात में हिलैरी क्लिंटन ने कहा कि वह फ़िलिस्तीन इस्राईल विवाद के संबंध में दो राष्ट्रों वाले समाधान का समर्थन करती हैं लेकिन संयुक्त राष्ट्र संघ सहित बाहरी पक्ष की ओर से थोपे गए हर समाधान का विरोध करेंगी.

हिलैरी क्लिंटन ने कहा कि इस्राईल के विरुद्ध जारी अभियानों का वह मुक़ाबला करेंगी जिनमें बीडीएस अभियान भी शामिल है. बायकाट, डिवेस्टमेंट एंड सैंकशन्स बीडीएस अभियान वर्ष 2005 में 170 फ़िलिस्तीनी संगठनों की ओर से शुरू किया गया था जिसके तहत इस्राईल का कई प्रकार से बहिष्कार किए जाने की कोशिश की जा रही है.

इसके अलावा हिलैरी क्लिंटन ने इस्राईल को दी जाने वाली सैनिक मदद का समर्थन करते हुए कहा कि मज़बूत और सुरक्षित इस्राईल अमरीका के लिए बहुत महत्वपूर्ण मुद्दा है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?