दो दिन पहले इजराइल द्वारा फिलिस्तीन में मस्जिदों से लाउडस्पीकर पर अज़ान देने पर रोक लगाने सबंधी कानून को पारित किये जाने के बाद हमास ने कड़ा रुख इख्तियार करते हुए कहा कि किसी भी स्थिति में मस्जिदों में होने वाली अज़ान पर रोक नहीं लगाई जा सकती.

शुक्रवार को फ़िलिस्तीनियों ने इजराइल के इस नए क़ानून के खिलाफ विरोध-प्रदर्शन किया. हमास ने चेतावनी देते हुए कहा कि इस कानून पर कोई अमल नहीं होगा. इसके साथ ही किसी भी मस्जिद से होने वाली अज़ान पर भी रोक नहीं लगेगी.

वहीँ संयुक्त राष्ट्र संघ ने भी इजराइल के इस आदेश की आलोचना की हैं. संयुक्त राष्ट्रसंघ के उप महासचिव फ़रहान हक़ ने कहा कि इस्राईल को चाहिए के वह फ़िलिस्तीनियों के धार्मिक अधिकारों का सम्मान करे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

गौरतलब रहें कि इजरायल ने एक विवादास्पद कानून के जरिए 2 दिन पहले ही फिलिस्तीन में रात ग्यारह बजे से सुबह सात बजे तक मस्जिदों में लाउडस्पीकर पर अज़ान देने पर रोक लगा दी हैं.

Loading...