नीदरलैंड में एक संगठन ने यूरोप में दुनिया का सबसे बड़ा फिलीस्तीन ध्वज फहराया है, KOFIA नामक संगठन ने एक बयान में कहा कि ध्वज 100 मीटर लंबा और पांच मीटर चौड़ा है।

समूह ने कहा कि यह यूरोप में अपनी तरह की पहली घटना माना जा रही है। यह कदम एक हफ्ते से भी कम समय के बाद आया है जब डच सरकार ने इजरायल के अधिकारियों पर नाराजगी व्यक्त की थी, जो वेस्ट बैंक गांव से दर्जनों डच फंड वाले सौर पैनलों पर कब्जा कर रहे थे।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

दरअसल इज़राइली बलों ने बेल्टलेहेम के पूर्व जुबबेट अल-धिब के पृथक गांव में सौर पैनलों को जब्त कर लिया था, जिसे पिछले साल स्थापित किया गया था, इसके लिए बहाना बनाया गया था कि वेस्ट बैंक के 61 प्रतिशत हिस्से पर इजरायल का सैन्य नियंत्रण है और एरिया सी को विकसित करने के लिए इस्राइल से आवश्यक परमिट प्राप्त नहीं किया गया है।

इज़राइली समाचार दैनिक हारेत्ज़ ने एक रिपोर्ट म शनिवार को डच विदेश मंत्रालय से एक बयान का हवाला देते हुए कहा कि डच सरकार ने बिजली उपकरणों की जब्त के दौरान इजरायल के समक्ष विरोध प्रकट किया।

रिपोर्ट के मुताबिक दक्षिणी बेथलहैम क्षेत्र में डच सरकार द्वारा दान की गई विद्युतीकरण परियोजना की लागत लगभग 500,000 यूरो थी, जिसमें 350,000 यूरो जुबेट अल-धिब गए थे।