अमेरिकी दूतावास को तेलअवीव से लेकर बैतूल मुक्कदस को स्थानांतरित किये जाने को लेकर अब पाकिस्तान भी अमेरिका के विरोध में आ गया हैं.

पाकिस्तान ने फ़िलिस्तीन की पाक जमीन को इस्लामिक जगत का दिल बताते हुए कहा कि अगर अमेरिकी दूतावास को बैतूल मुक्कदस लाया जाता हैं तो इसे पूरी इस्लामिक दुनिया प्रभावित होगी. संयुक्त राष्ट्र संघ में पाकिस्तान की स्थायी प्रतिनिधि मलीहा लोधी ने बुधवार को सुरक्षा परिषद की बैठक में कहा कि इस्राईल में मौजूद किसी भी देश के दूतावास का अतिग्रहित क़ुद्स में स्थानांतरण सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों का उल्लंघन है.

लोधी ने अमरीकी राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रम्प के इस इरादे की आलोचना करते हुए फ़िलिस्तीन की पाक जमीन को इस्लामिक जगत का दिल बताया और कहा कि फ़िलिस्तीनी की जमीन और जनता के ख़िलाफ़ यदि कोई भी अप्रिय घटना होती हैं तो इस्लामिक जगत प्रभावित होगा.

उन्होंने आगे कहा, इजराइल ने संयुक्त राष्ट्र संघ के घोषणापत्र व क़ानून का उल्लंघन करते हुए लगभग 50 साल से बलपूर्वक पश्चिमी तट का अतिग्रहण कर रखा हैं. ऐसे में अगर पश्चिम एशिया में शांति चाहते हैं तो क़ुद्स की राजधानी वाले फ़िलिस्तीनी देश का गठन करना होगा.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें