nepal pak pm

nepal pak pm

पाकिस्तानी पीएम शाहिद खाकान अब्बासी दो दिनों के नेपाल दौरे पर है. इस ख़बर से भारत की परेशानियां बढती हुई नज़र आ रही है. नेपाल में वाम गठबंधन की सरकार बनने के बाद पाकिस्तानी पीएम का यह दौरा काफी अहम माना जा रहा है. साथ ही नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली को चीन का समर्थक माना जाता है.

आपको बता दें कि, अब्बासी ने नेपाल में कल ही अपना दो दिवसीय दौरा शुरू किया. वह नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली के आमंत्रण के बाद नेपाल पहुंचे. ओली के कार्यभार संभालने के बाद अब्बासी पहले वरिष्ठ विदेशी नेता हैं जो नेपाल के दौरे पर आए हैं. अब्बासी नेपाली राष्ट्रपति विद्यादेवी भंडारी से भी मुलाकात करेंगे.

इसी के साथ अब्बासी ओली के साथ-साथ नेपाली अधिकारियों के साथ भी बातचीत करेंगे. आपको बता दें कि, अब्बासी पहले पाकिस्तानी प्रधानमंत्री हैं जो तीन साल के अंतराल के बाद नेपाल के दौरे पर आए हैं.  ‘काठमांडू पोस्ट’ के मुताबिक, बैठक के दौरान दोनों पीएम के बीच दक्षिण एशियाई क्षेत्रीय सहयोग संगठन को दोबारा प्रभाव में लाने पर सहमति भी बनी.

अब्बासी ने 19वें SAARC (सार्क) सम्मेलन की मेजबानी करने की ख्वाइश ज़ाहिर की है. 19वां SAARC (सार्क) सम्मेलन साल 2016 में पाकिस्तान में ही होना था लेकिन जम्मू-कश्मीर के उड़ी आर्मी बेस पर हुए आतंकी हमले के बाद भारत ने इसका बहिष्कार किया था. भारत के साथ ही बांग्लादेश और अफगानिस्तान ने भी सम्मेलन में हिस्सा नहीं लेने का फैसला किया था जिसके बाद सम्मेलन को रद्द कर दिया गया था. अब पाकिस्तान नेपाल के साथ मिलकर इस सम्मेलन को दोबारा आयोजित करने की कोशिशॉन में लगा है.

इसी के साथ भारत और नेपाल से रिश्तों में दोबारा गर्माहट लाने के लिए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने बीते महीने काठमांडू का दौरा किया था. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी ओली को फोन पर बधाई दी थी. हालांकि दोनों देशों के प्रधानमंत्रियों ने काफी लम्बी बात की थी.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?