यरूशलम: पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा है कि अगर क्षेत्र में राजनीतिक स्थिति में सुधार होता है तो उनका देश इजरायल के साथ अपने संबंध मजबूत करने का इच्छुक है। कुरैशी ने दशकों पुराने फलस्तीन मुद्दे के समाधान के परोक्ष संदर्भ में यह बात कही।

कुरैशी के इस बयान से कुछ महीनों पहले पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी ने गत अक्टूबर में इजरायल के साथ किसी भी तरह के संबंध रखने से इंकार किया था।

Loading...

हाल में संपन्न म्यूनिख सुरक्षा सम्मेलन के इतर, विदेश मंत्री ने इजरायल के एक समाचार पोर्टल ‘मारिव’ से कहा, ‘‘पाकिस्तान इजरायल के साथ अपने संबंध मजबूत करने का इच्छुक है लेकिन यह क्षेत्र की राजनीतिक स्थिति पर निर्भर करता है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘इजरायल-फलस्तीन विवाद को सुलझाने में प्रगति बहुत मददगार होगी। अगर अमेरिकी योजना ऐसा करने में सफल रहती है तो यह अच्छा रहेगा।’’

कुरैशी के हवाले से कहा गया, ‘‘हम इजरायल को शुभकामनाएं देते हैं। हमारे क्षेत्र में कई मित्र हैं और हम आपसे चाहेंगे कि आप उनके साथ जुड़ जाएं।’’ (भाषा)

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें