समझौता एक्सप्रेस बम विस्फोट मामले के आरोपी स्वामी असीमानंद को अजमेर दरगाह बम ब्लास्ट मामलें में एनआईए की विशेष अदालत द्वारा आरोपमुक्त कर रिहा करने को लेकर पाकिस्तान ने ‘अफसोसनाक’ बताया.

पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता नफीस जकरिया ने कहा कि विशेष अदालत ने कल 2007 के अजमेर विस्फोट मामले में असीमानंद सहित छह अन्य लोगों को बरी किया हैं. ये सभी समझौता एक्स्रपेस त्रासदी में शामिल थे. असीमानंद ने खुद 2010 में सार्वजनिक रूप से अपने अपराध को स्वीकार किया था.

उन्होंने कहा, ‘हमें भारत की और से उच्चतम राजनीतिक स्तर पर कई बार विश्वास दिलाया गया था कि भारत इस हमले को लेकर हमारे साथ जांच को साझा करेगा, लेकिन हमें उनकी ओर से कुछ पता नहीं चला.

याद रहे 18 फरवरी, 2007 को पानीपत में समझौता एक्सप्रेस ट्रेन में ब्लास्ट हुआ था. जिसमें 68 लोग मारे गए थे. मारे गए लोगों में अधिकतर पाकिस्तानी नागरिक शामिल थे.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?