source: PTI

पाकिस्तान ने जिस बेरहम अंदाज़ में कुलभूषण जाधव को उनकी माँ और पत्नी से मिलवाया इस पर भारत ने कई सवाल उठाये. अब पाकिस्तान ने दावा किया कि कुलभूषण की पत्नी के जूतों कुछ सुरक्षा कारणों से जब्त कर लिया गया था क्योकि उनके जूते में “कुछ” था.

वहीँ पाकिस्तान के विदेश मंत्री मुहम्मद फैज़ल ने कहा कि हमने जाधव की पत्नी के झूठे उतवारे थे क्योंकि हमे शक हुआ था कि उनके जूते में कुछ है, इसके बदले उन्हें दूसरे जूते पहनने के लिए दिए गए.

मुलाकात के दौरान जाधव की पत्नी के ज़ेवर और कुछ अन्य चीज़े भी निकवाली गयी थी जिन्हें बाद में वापस कर दिया गया था. पाकिस्तान ने आशंका जताई है की उनकी पत्नी के जूते में जासूसी की कुछ चीज़ थी. पाकिस्तान ने जिस अंदाज़ में जाधव के परिवार से उनकी मुलाकात करायी है भारत ने इसे बेहद्द अपमानित बताते हुए निंदा की है.

source: Dawn

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

भारत के आरोपों को ख़ारिज करते हुए पाकिस्तान ने कहा कि अगर मुलाकात के दौरान कुछ भी गलत हो रहा था तो भारत को उसी वक़्त इन मुद्दे को मीडिया में उठाना चाहए था. मुताकत के वक़्त जाधव और उनके परिवार के बीच एक कांच की दीवार थी. जाधव को उनके परिवार से मराठी में बात करने की भी नहीं दी गयी थी.

भारतीय विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रविश कुमार ने प्रेस कांफ्रेंस के ज़रिये पाकिस्तान की कई बातों पर सवाल उठाये और पाकिस्तान की जम कर आलोचना भी की. जाधव को उनकी माँ की मातृभाषा मराठी में बात करने की इजाज़त नहीं दी गयी. मुलाकात के दौरान उनके सांकृतिक और धार्मिक भावनाओं को भी ठेस पहुचाई गयी.

प्रवक्ता ने यह बताया कि पाकिस्तानी मीडिया जाधव के परिवार वालों के साथ बद्सलूखी से पेश आई थी. जाधव की बातों से एसा लग था की वह बहुत तनाव में है और उनके बात करने के लहजे से यह साफ़ पता चल रहा था की उन्हें ज़्यादातर बातें सिखायीं गयी थी.