Saturday, July 31, 2021

 

 

 

कश्मीर समस्या सुलझाने वाला होगा ‘नोबेल शांति पुरस्कार’ का असली हकदार: इमरान खान

- Advertisement -
- Advertisement -

भारत और पाकिस्तान में जारी तनाव के बीच अब पाकिस्तान में प्रधानमंत्री इमरान खान के लिए नोबेल पुरस्कार की मांग की जा रही है। पाकिस्तान की संसद में इमरान को पुरस्कार के लिए नामित करने का प्रस्ताव आया है। इस प्रस्ताव को सूचना मंत्री फवाद चौधरी लेकर आए हैं।

फवाद चौधरी ने शनिवार को निचले सदन नेशनल असेंबली के सचिवालय में यह प्रस्ताव सौंपा। प्रस्ताव में कहा गया है कि भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर को रिहा करने के खान के फैसले से पाकिस्तान और भारत के बीच तनाव दूर हुआ है। प्रस्ताव के मुताबिक खान ने तनाव की मौजूदा स्थिति में जिम्मेदाराना बर्ताव किया और वह नोबेल शांति पुरस्कार के हकदार हैं।

ऐसे में अब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा है कि नोबेल शांति पुरस्कार के लिए वे खुद उपयुक्त नहीं मानते। उनका कहना है कि कश्मीर समस्या का समाधान तलाश करने वाले व्यक्ति को यह पुरस्कार मिलना चाहिए। उनका मानना है कि इस समस्या का हल होने के बाद ही उपमहाद्वीप में शांति और मानवीय विकास का मार्ग प्रशस्त हो सकेगा।

पाक मीडिया में कहा गया है कि भारतीय पायलट अभिनंदन वर्तमान को रिहा करने के बाद पाक के लोगों ने सोशल मीडिया पर अभियान चलाया है। अभी तक तीन लाख से ज्यादा लोगों ने इमरान को नोबेल दिए जाने के समर्थन में हस्ताक्षर किए हैं।

हालांकि पाकिस्तान पीपल्स पार्टी (पीपीपी) के वरिष्ठ नेता सैय्यद खुर्शीद शाह ने दुख जताया है कि उपमहाद्वीप में अभी भी जंग के हालात बने हुए हैं और सत्तारूढ़ पार्टी के नेता इमरान को नोबेल पुरस्कार देने का अभियान चला रहे हैं। उन्होंने अभिनंदन को रिहा करने की टाइमिंग पर भी सवाल उठाए हैं।

शाह ने कहा कि इस मुश्किल समय में विपक्ष ने सरकार को पूरा सहयोग दिया, लेकिन इमरान विपक्षी सांसदों से मिले भी नहीं। उनका कहना था कि जिस प्रधानमंत्री को नोबेल पुरस्कार देने के लिए अभियान चलाया जा रहा है वह विपक्षी सांसदों से बात भी नहीं करते।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles