Tuesday, August 3, 2021

 

 

 

दोस्तों ने मुझे मलेशिया शिखर सम्मेलन में शामिल नहीं होने के लिए कहा था: इमरान खान

- Advertisement -
- Advertisement -

दिसंबर में कुआलालंपुर शिखर सम्मेलन में शामिल न होने को लेकर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि दोस्तों ने उन्हे शिखर सम्मेलन में शामिल नहीं होने के लिए कहा था।  खान ने कुआलालंपुर शिखर सम्मेलन से अपनी अनुपस्थिति को लेकर दुख व्यक्त किया, उन्होंने कहा कि वह अगले शिखर सम्मेलन में भाग लेने की उम्मीद करते हैं।

पुटराया में अपने मलेशियाई समकक्ष, महाथिर मोहम्मद के साथ एक संयुक्त संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए, खान ने कहा: “दुर्भाग्य से, हमारे दोस्त, जो पाकिस्तान के बहुत करीब हैं, ने महसूस किया कि किसी भी तरह यह सम्मेलन उम्माह को विभाजित करने वाला बताया था। यह स्पष्ट रूप से गलत धारणा थी क्योंकि सम्मेलन का उद्देश्य स्पष्ट नहीं था कि सम्मेलन कब हुआ था। “

माना जा रहा है कि इमरान खान का इशारा सऊदी अरब की और था। दरअसल, सऊदी अरब और कुछ हद तक, यूएई पर आरोप लगाया जाता है कि वह “मिनी-इस्लामिक शिखर सम्मेलन” में शामिल होने से रोकने के लिए खान पर दबाव डाल रहे थे, उन्हे यह डर है कि यह इस्लामिक सहयोग संगठन (OIC) के लिए एक प्रतिद्वंद्वी बन जाएगा।

इमरान खान ने कहा कि “मैं सम्मेलन में भाग लेने के लिए उत्सुक था क्योंकि मुझे लगता है कि यह महत्वपूर्ण है कि मुस्लिम देश पश्चिमी और गैर-मुस्लिम देशों को इस्लाम और इन सभी गलतफहमियों के बारे में शिक्षित करते हैं, चाहे जानबूझकर या अज्ञानता के कारण।”

हालाँकि खान ने दोनों देशों का नाम नहीं लिया, उन्होंने कहा कि “इसका कारण है कि हमारी कोई आवाज़ नहीं है और हमारे बीच कुल विभाजन है।” हम कश्मीर पर OIC शिखर सम्मेलन की बैठक में एक साथ आ सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles