Tuesday, August 3, 2021

 

 

 

पाकिस्तान-मलेशिया ने मिलकर उठाया कश्मीर का मुद्दा, भारत ने जताई आपत्ति

- Advertisement -
- Advertisement -

मलेशिया और पाकिस्तान ने एक बार फिर से मिलकार कश्मीर का मुद्दा उठाया है। “मलेशिया और पाकिस्तान ने दृढ़ता से कहा कि फिलिस्तीन, स्थिति और जम्मू और कश्मीर और रोहिंग्याओं के मुद्दे को संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) और महासभा के प्रस्तावों, साथ ही संयुक्त राष्ट्र चार्टर के आधार पर हल किया जाना चाहिए।”

अंतर्राष्ट्रीय मानवाधिकार और मानवतावादी कानून, “प्रधान मंत्री इमरान खान की मलेशिया की यात्रा के समापन पर, दोनों देशों के विदेशी कार्यालयों द्वारा जारी संयुक्त बयान में कहा गया है।

मलेशिया के प्रधान मंत्री महाथिर मोहम्मद ने अंतर्राष्ट्रीय शांति और सुरक्षा के रखरखाव के लिए अपने सद्भावना कूटनीतिक प्रयासों के माध्यम से दक्षिण एशियाई और पश्चिम एशियाई क्षेत्रों में शांति और सुरक्षा सुनिश्चित करने में पाकिस्तान के प्रधान मंत्री की आवश्यक भूमिका को मान्यता दी।

संयुक्त बयान में कहा गया है, “मलेशिया और पाकिस्तान इस्लाम के वास्तविक मूल्यों को बनाए रखने और इस्लामोफोबिया और मुस्लिम अल्पसंख्यकों के अधिकारों सहित उम्माह के सामने मौजूद चुनौतियों का सामना करने के लिए अंतर्राष्ट्रीय मंचों पर सहयोगात्मक प्रयासों को और बढ़ाएंगे।”

दूसरी और भारत ने पाकिस्तान-मलेशिया के संयुक्त बयान में जम्मू-कश्मीर के जिक्र को लेकर आज सिरे से खारिज कर दिया और मलेशिया के नेतृत्व को इस मुद्दे एवं उससे जुड़े तथ्यों को समझने की नसीहत दी।

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने यहां नियमित ब्रीफिंग में कहा, “भारत अपने अभिन्न एवं अविभाज्य अंग जम्मू कश्मीर के बारे में की गयी टिप्पणियों को पूरी तरह से खारिज करता है। हम मलेशियाई नेतृत्व का एक बार पुन: आह्वान करते हैं कि वह तथ्यों के बारे में बेहतर समझ विकसित करे।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles