नई दिल्ली: पाकिस्तान उच्चायोग ने दिसंबर 2020 में भारतीय हिंदू यात्रियों के दो समूहों को पाकिस्तान में उनके श्रद्धेय स्थलों की यात्रा के लिए वीजा जारी किया है।

उच्चायोग ने प्रेस नोट जारी कर बताया, सोमवार को 47 भारतीय हिंदू यात्री के एक समूह को वीजा जारी किया। ये सभी श्री कटास राज मंदिरों का दौरा करेंगे, जिन्हें किला कटास या पंजाब के चाकवाल जिले में कटास मंदिरों के परिसर के रूप में भी जाना जाता है, 23-29 दिसंबर 2020 तक पाकिस्तान के कटास राज मंदिर हिंदू श्रद्धालुओं के लिए पवित्र तालाब से घिरे हैं।

44 भारतीय हिंदू यात्रियों का एक और समूह सोमवार को पाकिस्तान से लौटा, जहाँ उन्होंने 15-21 दिसंबर, 2020 तक सिंध के सुक्कुर में शिव अवतारी सतगुरु संत शादाराम साहिब के 312 वें जन्मोत्सव समारोह में भाग लिया।

तीन शताब्दी से अधिक पुराना मंदिर, शादानी दरबार, दुनिया भर के भक्तों के लिए एक पवित्र स्थान है। मंदिर की स्थापना 1786 में संत शादाराम साहिब ने की थी, जिनका जन्म 1708 में लाहौर में हुआ था।

हर साल कई धार्मिक त्योहारों के मौके पर 1974 के धार्मिक तीर्थस्थलों पर द्विपक्षीय प्रोटोकॉल के तहत हजारों भारतीय सिख और हिंदू तीर्थयात्री पाकिस्तान जाते हैं। सिख और हिंदू तीर्थयात्रियों को तीर्थयात्रा वीजा जारी करना धार्मिक तीर्थस्थलों पर उनकी यात्रा को सुविधाजनक बनाने के लिए पाकिस्तान सरकार के प्रयासों का हिस्सा है।

पाकिस्तान पवित्र धार्मिक स्थलों के संरक्षण और सभी धर्मों के आने वाले तीर्थयात्रियों के लिए हर संभव सुविधा प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध है।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano