326958 aleema khan

इस्लामाबाद: पाकिस्तान की सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री इमरान खान की बहन अलीमा खानम को विदेश में संपत्ति के स्वामित्व मामले में 2.94 करोड़ रुपये का कर व जुर्माना भरने का आदेश दिया है।

शीर्ष अदालत की तीन सदस्यीय पीठ ने सुनवाई के दौरान कहा कि खानम अगर अदालत के फैसले का सम्मान नहीं करती हैं तो उनकी संपत्ति कुर्क कर ली जाएगी। बता दें कि संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) में संपत्ति रखने वाले 44 राजनीतिक रसूख वाले व्यक्तियों के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में मामले की सुनवाई चल रही है।

Loading...

फेडरल बोर्ड ऑफ रेवेन्यू (एफबीआर) ने अदालत से कहा कि खानम पर 2,940 करोड़ रुपए का जुर्माना और कर लगाया गया है। उनकी पहचान संपत्ति के बेनामीदार मालिक के रूप में हुई है।

अपने अधिवक्ता के साथ अदालत में पेश हुईं खानम ने अदालत को बताया कि उन्होंने 2008 में 3,70,000 डॉलर में संपत्ति खरीदी थी, जिसे उन्होंने 2017 में बेच दिया था। इससे पहले की सुनवाई में एफबीआर ने अदालत को खानम की संपत्ति और कर ब्योरा दिया था।

सुनवाई के दौरान संघीय जांच एजेंसी (एफआइए) ने अदालत के समक्ष विदेश में संपत्ति रखने वालों के बारे में भी जानकारी दी। अब तक कुल 2,154 लोगों की पहचान हुई है, जिनके पास विदेश में संपत्ति है। इनमें से 1,208 लोगों के पास सिर्फ संयुक्त अरब अमीरात में संपत्ति है।

इस मामले में स्वत: संज्ञान लेते हुए अदालत ने पाया था कि बिना कर चुकाए पैसों को अवैध तरीके से देश के बाहर भेजा गया। अदालत ने कहा कि ऐसे कदमों से समाज में असमानता आती है और देश की अर्थव्यवस्था प्रभावित होती हैं।

सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश ने अलीमा की संपत्ति पर 28 नवंबर को स्वत: संज्ञान लिया था। दरअसल, पाकिस्तान के मुख्य न्यायाधीश मिया साकिब निसार बांध के लिए धन एकत्र करने के मकसद से लंदन के दौरे पर गए थे, तभी पत्रकारों ने अलीमा खान की विदेशों में संपत्ति होने की जानकारी दी थी।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें