पाकिस्तान के नए राष्ट्रपति डॉक्टर आरिफ अल्वी का भारत के साथ बहुत ही खास रिश्ता है। दरअसल वह भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू के डेन्टिस्ट के बेटे है। अल्वी को मंगलवार को पाकिस्तान का राष्ट्रपति चुना गया।

पीटीआई की वेबसाइट के अनुसार, अलवी के पिता डॉ. हबीब उर रहमान इलाही अलवी विभाजन से पहले तक नेहरू के दंत चिकित्सक थे। वेबसाइट के मुताबिक, ‘‘डॉ. इलाही अलवी जवाहरलाल नेहरू के दंत चिकित्सक थे और परिवार के पास डॉ. अलवी को लिखे नेहरू के पत्र हैं।’’

डॉ. आरिफ उर रहमान अलवी का जन्म कराची में वर्ष 1949 में हुआ था जहां उनके पिता विभाजन के बाद बसे थे।अल्वी के पिता का संबंध जिन्ना से भी था। जिन्ना की बहन ने ट्रस्ट बनाया था और आरिफ अल्वी के पिता इस ट्रस्ट के ट्रस्टी थे।

nehru

पेशे से डेंटिस्ट अल्वी ने पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के उम्मीदवार ऐतजाज अहसन और पाकिस्तान मुस्लिम लीग-एन के उम्मीदवार मौलाना फजल उर रहमान को त्रिकोणीय मुकाबले में हराया है। नेशनल असेंबली और सीनेट के कुल 430 वोटों में से आरिफ को 212 (49.3%) वोट मिले।

वहीं रहमान को 131 और 81 वोट मिले जबकि 6 वोट रद्द कर दिए गए।बलूचिस्तान के नव निर्वाचित सांसदों के डाले गए 60 मतों में से अलवी को 45 मत मिले।