Tuesday, May 18, 2021

पठानकोट हमला: मसूद अजहर, उसका भाई गिरफ्तार

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली/इस्लामाबाद: जियो टीवी के हवाले से बताया गया है कि जैश-ए-मोहम्‍मद के प्रमुख मौलाना मसूद अजहर, उसके भाई अब्‍दुल रऊफ और कई करीबियों को हिरासत में लिया गया है।

  1. पठानकोट हमले को लेकर पाकिस्तान में आज ताबड़तोड़ छापे मारे गए हैं। पाकिस्तान द्वारा पठानकोट हमले के सिलसिले में की गई यह अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई है।
  2. पाकिस्तान ने आज इस हमले की कथित तौर पर साजिश रचने वाले जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े कई व्यक्तियों को हिरासत में लिया और इस संगठन के कार्यालयों को सील कर दिया। मसूद अजहर को कंधार विमान अपहरण के समय छोड़ा गया था।
  3. पाकिस्तान अपने एक विशेष जांच दल को पठानकोट भेजने पर भी विचार कर रहा है क्योंकि भारत के सहयोग की प्रक्रिया को आगे बढ़ाने के लिए और सूचना की दरकार होगी।
  4. पाकिस्तान की ओर से यह कार्रवाई उस वक्त की गई है जब भारतीय विदेश सचिव एस जयशंकर के प्रस्तावित बातचीत के लिए इस्लामाबाद जाने में सिर्फ दो दिन बचे हुए हैं। प्रधानमंत्री नवाज शरीफ की अध्यक्षता में हुई उच्च स्तरीय बैठक में पाकिस्तान की कार्रवाई की समीक्षा की गई है।
  5. इन गिरफ्तारियों की घोषणा नवाज शरीफ द्वारा टॉप अधिकारियों की समीक्षागत मीटिंग के बाद की गई। कार्रवाई के तहत जैश के कई कार्यालय भी सील कर दिए गए हैं।
  6. पीएम नवाज शरीफ के ऑफिस से जारी स्टेमेंट के मुताबिक, पाकिस्तान की ओर से अधिकारियों की एक ‘सहयोग देने की भावना के साथ’ टीम भारत आएगी।
  7. उच्च स्तरीय बैठक के बाद प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी बयान के अनुसार अपनी धरती से आतंकवाद के खात्मे की पाकिस्तान की प्रतिबद्धता तथा कहीं भी आतंकवादी गतिविधियों के लिए अपने क्षेत्र का उपयोग करने नहीं देने के उसके राष्ट्रीय संकल्प के संदर्भ में अब तक की कार्रवाई का संतोष के साथ संज्ञान लिया गया है।
  8. बयान में कहा गया है, ‘‘पाकिस्तान में शुरूआती जांच और प्रदान की सूचना के अनुसार जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े कई व्यक्तियों को पकड़ा गया है। संगठन के कार्यालयों का पता किया जा रहा है और उन्हें सील किया जा रहा है। आगे की जांच जारी है।’’ प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी बयान के अनुसार सहयोगात्मक भावना को देखते हुए यह फैसला किया गया कि प्रक्रिया को आगे बढ़ाने के क्रम में अतिरिक्त सूचना की जरूरत होगी जिसके लिए पाकिस्तान सरकार भारत सरकार से विचार-विमर्श के साथ एक एसआईटी को पठानकोट भेजने पर विचार कर रही है।
  9. एक अधिकारी ने कहा कि अब तक करीब 12 चरमपथियों को पकड़ा जा चुका है और उनसे पूछताछ की जा रही है। उन्होंने कुछ दूसरी सूचनाएं देने से इंकार कर दिया जैसे कि इन लोगों को कहां रखा गया है अथवा उनको कब अदालत में पेश किया जाएगा।
  10. भारत की ओर से आरोप था कि इस हमले की जैश ने अंजाम दिया है और इस बाबत भारत ने पाक को कई सबूत भी दिए थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles