Monday, December 6, 2021

भारतीय EVM पर बोत्सवाना में उठे सवाल, विपक्षी पार्टियां कर रही विरोध

- Advertisement -

देश में ईवीएम पर उठ रहे सवालों के बीच भारतीय ईवीएम की ‘बदनामी’ अंतरराष्ट्रीय स्तर तक पहुंच गई है. अफ्रीकी देश बोत्सवाना में भारतीय ईवीएम का कड़ा विरोध हो रहा है.

ऐसे में अब बोत्सवाना के चुनाव आयोग ने भारतीय चुनाव आयोग से अपने प्रतिनिधि भेजकर ईवीएम की अच्छाई और इसके एररप्रूफ होने की बात साबित करने का अनुरोध किया है. बता दें कि यहां पर अक्टूबर 2019 में होने वाले आम चुनाव में भारतीय ईवीएम के इस्तेमाल होना है.

विपक्षी पार्टी बोत्सवाना कांग्रेस पार्टी (BCP) का आरोप है कि EVM के इस्तेमाल से नतीजे सत्ताधारी बीडीपी के पक्ष में ही होंगे. जिसको लेकर उसने कोर्ट का रुख किया है. विपक्षी दल का कहना है कि ईवीएम से छेड़छाड़ कर सत्ताधारी दल नतीजे अपने पक्ष में कर सकता है.

बोत्सवाना सरकार और उसके चुनाव आयोग ने भारतीय चुनाव आयोग (ECI) के एक्सपर्ट से कहा है कि वे ईवीएम के इस्तेमाल की अच्छाई को लेकर वहां की अदालत में अपनी राय दें. साथ ही वो अपने विशेषज्ञ भेजकर ईवीएम की मेरिट के बारे में बताएं.

बोत्सवाना में कुल 57 संसदीय क्षेत्र हैं और इसके लिए 6,000 पोलिंग स्टेशन पर चुनाव कराए जाते हैं. इनके लिए भारत में महज 2-3 दिन में ही ईवीएम मशीन तैयार किए जा सकते हैं.

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles