मध्य पूर्व को बर्बाद और तबाह करने के पीछे सिर्फ और सिर्फ इजराइल: ईरान

ईरान ने सयुंक्त राष्ट्र में मध्यपूर्व में फैली अशांति के लिए इजराइल को जिम्मेदार ठहराया हैं.  ईरानी राजदूत ग़ुलाम अली खुश्रो ने कहा कि इजराइल 1948 से अब तक क्षेत्रीय देशों पर कम से कम 14 बार हमला किया है. उन्होंने कहा कि  मध्यपूर्व की समस्त समस्याओं की जड़ इजराइल ही है.

खुश्रो ने गुरूवार को मध्यपूर्व और फिलिस्तीन के मामलों की समीक्षा के लिए आयोजित की गई सुरक्षा परिषद की बैठक नमे कहा कि मध्यपूर्व में समस्त समस्याओं की जड़ जायोनी शासन है परंतु अमेरिका इजराइल को अपराधी ठहराने के बजाय उसका दुनिया भर में महिमामंडन कर रहा हैं.

ईरानी राजदूत ने कहा कि इजराइल ने वर्ष 1948 से अब तक क्षेत्रीय देशों पर कम से कम 14 बार हमला किया है और परमाणु हथियार अप्रसार संधि एनपीटी और इसी तरह रासायनिक व जैविक हथियारों के अप्रसार से संबंधित संधि पर हस्ताक्षर न करके अंतरराष्ट्रीय कानूनों का मज़ाक उड़ाया है.

खुश्रो ने कहा कि मध्यपूर्व को सामूहिक हथियार रहित बनाने की दिशा में केवल इजराइल बाधा है. उन्होंने कहा कि केवल इजराइल शासन के पास परमाणु हथियार हैं और वह क्षेत्र के समस्त देशों के लिए गम्भीर खतरा है.

विज्ञापन