ओमान भी कर सकता है इजरायल के साथ समझौता, बहरीन-इज़राइल डील का किया स्वागत

ओमान ने इजरायल के साथ संबंधों को सामान्य बनाने के बहरीन के फैसले का स्वागत किया है। इसी के साथ ये भी कहा कि यह डील इजरायल-फिलिस्तीनी शांति में योगदान देगी। बता दें कि संयुक्त अरब अमीरात के नक्शेकदम पर चल शुक्रवार को बहरीन इजरायल के साथ संबंधों को सामान्य करने वाला दूसरा खाड़ी देश बन गया।

सरकारी बयान में कहा गया, “ओमान को उम्मीद है कि कुछ अरब देशों द्वारा उठाए गए इस नए रणनीतिक रास्ते से फिलिस्तीनी भूमि पर इजरायल के कब्जे की समाप्ति और पूर्वी येरुशलम के साथ एक स्वतंत्र फिलिस्तीनी राज्य की स्थापना के आधार पर शांति स्थापित होगी।”

माना जा रहा है कि इजरायल के साथ अब ओमान अपने सबंधको सामान्य कर सकता है। दरअसल, 13 अगस्त को यूएई-इजरायल समझौते की घोषणा के कुछ दिनों बाद इजरायल के खुफिया मंत्री ने कहा था कि ओमान भी उनके देश के साथ संबंधों को औपचारिक रूप दे सकता है।

ओमान ने यूएई और बहरीन के फैसलों का स्वागत किया है, लेकिन सामान्यीकृत संबंधों के लिए अपनी संभावनाओं पर टिप्पणी नहीं की है। 2018 में इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू ने ओमान का दौरा किया और तत्कालीन ओमानी नेता सुल्तान कबूस के साथ मध्य पूर्व में शांति की पहल पर चर्चा की थी।

ओमान ने अपनी तटस्थता बनाए रखी है। इसने क्षेत्रीय शक्तियों के साथ मैत्रीपूर्ण संबंध बनाए रखे हैं, जिसमें संयुक्त राज्य अमेरिका और ईरान के कट्टर-दुश्मन शामिल हैं।

विज्ञापन