इस्लामिक सहयोग संगठन (OIC) ने बुधवार को घोषणा की कि वह इजरायल के प्रधानमंत्री के हालिया बयान की समीक्षा करने के लिए विदेश मंत्रियों के स्तर पर जल्द ही एक आपातकालीन बैठक बुलाएगा।

दरअसल, मंगलवार को, बेंजामिन नेतन्याहू ने एक चुनावी रैली के दौरान कहा कि अगर वह 17 सितंबर को होने वाले आम चुनाव जीतते हैं, तो वे वेस्ट बैंक में कब्ज़े वाली जमीनों के हिस्सों को शामिल कर लेंगे – जिसमें मृत सागर और जॉर्डन घाटी के उत्तर शामिल हैं।

ओआईसी के महासचिव यूसेफ बिन अल-ओथेमीन ने इजरायल के आम चुनावों में जीत हासिल करने के मामले में फिलिस्तीनी क्षेत्रों पर इजरायल की संप्रभुता को स्थापित करने के लिए नेतन्याहू के इरादे की कड़ी निंदा की।

ओआईसी प्रमुख ने यह भी जोर दिया कि यह “खतरनाक घोषणा फिलिस्तीनी लोगों के अधिकारों के खिलाफ एक और आक्रामकता है”।

उन्होंने कहा कि बैठक में इजरायल की नई आक्रामकता का सामना करने के लिए संभावित राजनीतिक और कानूनी उपायों पर चर्चा होगी।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन