now-the-country-to-close-the-list-of-the-order-of-100

कराकस | प्रधानमंत्री मोदी के नोट बंदी के फैसले के बाद पुरे देश में इसके अनुकूल और प्रतिकूल प्रभाव को लेकर बहस छिड़ी हुई है. कुछ लोग इसे कालेधन पर सर्जिकल स्ट्राइक बता रहे है तो कुछ इसे आर्थिक आपातकाल की संज्ञा दे रहे है. इसके कितने दूरगामी परिणाम होंगे यह तो वक्त ही बतायेगा लेकिन एक और देश है जिसने नोट बंदी करने का फैसला किया है.

वेनेजुएला ने अपने सबसे बड़े नोट को 72 घंटे के अन्दर चलन से बाहर करने का आदेश दिया है. वेनेजुएला के राष्ट्रपति निकोलस मादुरो ने अपने टीवी कार्यक्रम ‘कॉन्टैक्ट विद मादुरो’ में नोट बंदी की घोषणा करते हुए कहा की देश की सबसे बड़ी राशी 100 बोलिवर को अगले 72 घंटो में चलन से बाहर हो जायेंगे. इन नोटों को सिक्को से बदल दिया जायेग.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

निकोलस ने आगे कहा की हमने उन माफियो को बेअसर करने के लिए यह कदम उठाया है जिन्होंने अरबो रूपए के 100 बोलिवर के नोट कोलंबिया और ब्राजील की कई जगहों पर छिपाए है. मैं चाहता हूँ की ये सभी नोट देश के अन्दर न आ पाए. इसलिए हमने जमीन, वायु और पानी , सभी रास्ते बंद कर दिए है. मैंने अपनी संवैधानिक शक्तियों और आर्थिक संकट को देखते हुए यह फैसला लिया है.

गौरतलब है की वेनेजुएला के अन्दर मुद्रास्फीति की दर 180 है. जो अगले दो सालो में 2000 फीसदी तक का आंकड़ा छु सकती है. यहाँ 100 बोलिवर नोट की कीमत 6 रूपए 80 पैसे के बराबर है. डॉलर में इसकी कीमत 3 सेंट के बराबर है. यहाँ एक हैमबर्गर खरीदने के लिए भी 50 , 100 बोलिवर नोटों की जरुरत पड़ती है. नोट बंदी के बाद यहाँ की करेंसी की वैल्यू बढ़ने की सम्भावना है. उम्मीद है की 100 बोलिवर नोट की वैल्यू , मौजूदा वैल्यू से 200 गुना ज्यादा होगी.

Loading...