जर्मन चांसलर एंगेला मर्केल ने आतंकवाद के ख़िलाफ़ लड़ाई में मुस्लिम देशों के सहयोग को जरुरु बताते हुए कहा कि इस्लाम धर्म का आतंकवाद से कोई वास्ता नहीं हैं. साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि इस्लाम धर्म को आतंकवाद से जोड़ना गलत हैं.

शनिवार को म्यूनिख़ में आयोजित सुरक्षा सम्मेलन को संबोधित करते हुए मर्केल ने कहा कि आतंकवाद के ख़िलाफ़ संयुक्त लड़ाई, एक ऐसा कार्य क्षेत्र है, जहां हमारे समान हित हैं.  जर्मन चांसलर ने इस निराधार आरोप को ख़ारिज कर दिया कि इस्लाम आतंकवाद का स्रोत है. उन्होंने कहा कि आतंकवाद के ख़िलाफ़ लड़ाई में मुस्लिम देशों को शामिल करना बहुत ज़रूरी है. मर्केल का यह भी कहना था कि बर्लिन, मास्को के साथ अच्छे रिश्ते बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध है.

याद रहें हाल ही में तुर्की की यात्रा के दौरान जर्मन चांसलर ने अपने संबोधन में आतंकवाद के साथ इस्लाम शब्द को जोड़ा था. जिसके बाद तुर्की के राष्ट्रपति रजब तय्यब अर्दोग़ान ने कड़ी आपति जाहिर करते हुए उनकी आलोचना की थी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

अर्दोग़ान ने कहा था कि  इस्लाम का अर्थ शांति हैं. ऐसे में इस्लाम और आतंकवाद दोनों एक साथ नहीं जोड़ा जा सकता. कहा कि इस्लामी आतंकवाद का शब्द मुसलमानों को बिल्कुल पसंद नहीं है और वह अन्यायपूर्ण है. आतंकवाद को इस्लाम से जोड़ना सही नहीं हैं.

उन्होंने एंगेला मर्केल से सीधे तौर पर कहा था, इस्लामी आतंकवाद का शब्द मुसलमानों को बिल्कुल पसंद नहीं है और वह अन्यायपूर्ण है.जिसमे एक का अर्थ शांति और दूसरे का अर्थ हिंसा हैं. इस आधार पर दोनों का शब्दों का एक साथ प्रयोग मुसलमानों को नाराज करने का सबब बनेगा.

Loading...