उत्तर कोरिया के राष्ट्रपति किम जोंग उन के सौतेले भाई की मलेशिया के एयरपोर्ट पर हत्या हुई. मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक दो महिलाओं ने जहरीला इंजेक्शन लगाकर किम जोंग-नाम को खत्म कर दिया. वह कोरियाई नेता से उम्र में बड़े थे और लंबे समय से चीन शासित मकाउ में निर्वासित जीवन व्यतीत कर रहे थे.

मलेशिया की पुलिस के मुताबिक राजधानी कुआलालम्पुर के एयरपोर्ट पर एक अज्ञात कोरियाई शख्स की मौत हो गई. कुआलालम्पुर इंटनेशनल एयरपोर्ट के पुलिस प्रमुख अब्दुल अजीज अली के मुताबिक कोरियाई शख्स की तबियत अचानक बिगड़ी और अस्पताल ले जाते वक्त रास्ते में उसकी मौत हो गई. अब्दुल ने कहा, “हमारे पास कोरियाई शख्स के बारे में कोई और जानकारी नहीं है. हमें उसकी पहचान के बारे में भी पता नहीं है.”

लेकिन दक्षिण कोरिया के मीडिया ने दावा किया है कि मृतक उत्तर कोरियाई शासक किम जोंग उन का सौतेला भाई किम जोंग-नाम है. दक्षिण कोरिया की सरकारी समाचार एजेंसी योनहैप के अनुसार 45 वर्षीय किम पर दो अज्ञात महिला एजेंटों ने ज़हरीली सुइयों से हमला किया. एजेंसी के अनुसार संदिग्ध हमलावर घटनास्थल से भाग गए.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इससे पहले उत्तर कोरियाई नेता के चाचा जांग सोंग- की दिसंबर 2013 में हत्या हुई थी. योनहाप ने दावा किया है कि उत्तर कोरिया की जासूसी एजेंसी द रेकन्नोयसां जनरल ब्यूरो ने हवाई अड्डे पर जोंग-नाम के अंगरक्षकों और मलेशियाई पुलिस के बीच सुरक्षा खामियों का लाभ उठा कर  इस हत्या को अंजाम दिया है.

Loading...