Sunday, September 19, 2021

 

 

 

रोहिंग्या मुसलमानों का नरसंहार म्यांमार संकट का कोई हल नहीं: शेख हसीना

- Advertisement -
- Advertisement -

hasina

म्यांमार में सुरक्षा बलों के हाथों रोहिंग्या मुसलमानों के जनसंहार पर बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने म्यांमार की सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि रोहिंग्या मुसलमानों का जनसंहार से म्यांमार के वर्तमान संकट का हल नहीं होने वाला है.

शुक्रवार को राजधानी ढाका में म्यांमार की सरकार को नसीहत देते हुए कहा कि म्यांमार सरकार बातचीत के जरिये इस संकट का हल निकाले. उन्होंने आगे कहा कि हमने अपनी क्षमता के अनुसार रोहिग्या मुसलमनों के लिए आवश्यक वस्तुएं उपलब्ध कराई हैं किंतु हम सारे रोहिंग्या शरणार्थियों को स्वीकार नहीं कर सकते.

बांग्लादेश में मौजूद अन्तर्राष्ट्रीय शरणार्थी कार्यालय के अनुसार रोहिग्या मुसलमानों पर हो रहे अत्याचार के कारण वे बांग्लादेश आने को मजबूर हैं. हिंसा शुरू होने के साथ ही राख़ीन से 21 हज़ार रोहिग्या मुसलमान अब तक बांग्लादेश आ चुके हैं.

हाल ही में संयुक्त राष्ट्र की शरणार्थी संस्था यूएनएचसीआर के प्रमुख जॉन मैकइस्सिक ने कहा हैं कि म्यांमार , रोहिंग्या मुसलमानों का खात्मा चाहता है. म्यांमार के रखाईन प्रांत में रहने वाले रोहिंग्या मुसलमानों के खिलाफ सुरक्षाबलो और सैन्य बलों ने एक अभियान चला रखा है. सैन्य बल वहां कत्लेआम आम कर रहा है. पुरुषो को गोली मारी जा रही है, उनके घर जलाए जा रहे है और महिलाओं के साथ बलात्कार किया जा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles