इस्लाम धर्म के तीसरे सबसे पवित्र शहर अल-कुद्स यानि जेरुसलम पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के फैसले की उत्तरी कोरिया ने कड़े शब्दों में निंदा की है.

किम जोंग उन ने कहा है कि जब इजरायल नाम का कोई देश है ही नहीं तो फिर उसकी राजधानी का सवाल ही पैदा नहीं होता.  उत्तरी कोरिया की सरकारी समाचार एजेन्सी के अनुसार बैतुल मुक़द्दस को इस्राईल की राजधानी के रूप में मान्यता देने के अमरीकी राष्ट्रपति के फैेसले पर उत्तरी कोरिया के नेता ने कहा है कि ट्रम्प सठिया गए हैं.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उत्तरी कोरिया के नेता के अनुसार इस्राईल नामकी जब कोई सरकार ही नहीं है तो फिर बैतुल मुक़द्दस उसकी राजधानी कहां से होगा?  उन्होंने कहा कि यह ट्रम्प का सोचा-समझा शरारत भरा फैसला है.

ध्यान रहे हाल ही में डोनाल्ड ट्रम्प ने जेरुसलम को इजरायल की राजधानी के रूप में मान्यता देकर अमेरिकी दूतावास को तेलअवीव से जेरुसलम शिफ्ट करने की मंशा जाहिर की है.

हालांकि ट्रम्प के इस फैसले के बाद दुनिया भर में उनकी आलोचना हो रही है. सयुंक्त राष्ट्र सहित दुनिया के किसी भी देश ने उनके इस फैसले को सही नहीं ठहराया.