गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित करने के लिए देश भर में भगवा संगठन मांग उठाते रहते है. इस सबंध में कई राष्ट्रीय स्तर के सम्मलेन भी हो चुके है. बावजुद इसके अब तक केंद्र सरकार को इस सबंध में कोई प्रस्ताव नहीं मिला है.

गृह मंत्रालय की और लोकसभा में लोकसभा में पी. नागराजन और रंजनबेन भट्ट के प्रश्न का जवाब देते हुए गृह राज्य मंत्री किरन रिजिजू ने कहा, ‘इस सिलसिले में गृह मंत्रालय को कोई प्रस्ताव नहीं मिला है. ना ही अब तक इस बता कोई मांग की गई है.’

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इस सबंध में नागराजन और भट्ट ने लिखित सवाल किया था कि क्या गाय को राष्ट्रीय पशु घोषित करने के संबंध में केंद्र को कोई प्रस्ताव प्राप्त हुआ है या देश के विभिन्न भागों में से ऐसी कोई मांग की गई है? यदि ऐसी कोई मांग है तो क्या सरकार ने उस पर विचार किया है?

हालांकि रिजिजू ने कहा कि केंद्र सरकार और राज्यों के बीच संविधान के अनुच्छेद 246(3) के तहत विधायी शक्तियों के बंटवारे के तहत पशुओं का संरक्षण एक ऐसा विषय है जिस पर राज्यों के विधानमंडल को कानून बनाने की विशिष्ट शक्तियां प्राप्त हैं.

गौरतलब रहे कि गाय को राष्ट्रिय पशु घोषित कराने का मुद्दा संघ परिवार के एजेंडा में शामिल है. हालांकि इस सबंध में कोई मांग न करना आश्चर्य करने वाला है.

Loading...